Top masters (MA) in Hindi University Dehradun Uttarakhand India
Temperature: 27°C Humidity: 38% Wind Speed: 0(m/s) Wind Direction: 303degree Rain: 0mm/s Soil Temp: 55(C) °

admission@sgrru.ac.in

For any enquiry

1800-120-10-2102

Toll free number

Course Overview

School School of Humanities and Social Sciences
Eligibility
Duration 2 Years
Admission Process

Syllabus

हिंदी भारतीय परंपरा का अभिन्न अंग रही है. यह भारत की 22 आधिकारिक भाषाओं में से एक है और इसका उपयोग संसदीय, न्यायिक और सरकारी संस्थानों में आधिकारिक संचार में किया जाता है। हिंदी की सुंदरता उसकी सादगी और शिष्टता में है।

हिंदी विश्व स्तर पर तीसरी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषाओं में से एक है, लगभग 425 मिलियन लोग जो इसे अपनी पहली भाषा के रूप में पहचानते हैं और अतिरिक्त 120 मिलियन लोग जो हिंदी को दूसरी भाषा के रूप में बोलते हैं।एक सुरक्षित और सफल करियर पथ के लिए हिंदी एक अंतिम समर्थन प्रणाली भी हो सकती है।

हिंदी भारतीय परंपरा का अभिन्न अंग रही है. यह भारत की 22 आधिकारिक भाषाओं में से एक है और इसका उपयोग संसदीय, न्यायिक और सरकारी संस्थानों में आधिकारिक संचार में किया जाता है। हिंदी की सुंदरता उसकी सादगी और शिष्टता में है।

हिंदी विश्व स्तर पर तीसरी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषाओं में से एक है, लगभग 425 मिलियन लोग जो इसे अपनी पहली भाषा के रूप में पहचानते हैं और अतिरिक्त 120 मिलियन लोग जो हिंदी को दूसरी भाषा के रूप में बोलते हैं।एक सुरक्षित और सफल करियर पथ के लिए हिंदी एक अंतिम समर्थन प्रणाली भी हो सकती है। आज हिंदी भाषा में डिग्री पूरी करने के बाद करियर के अनेक अवसर उपस्थित है जिनमे प्रमुख है-

राजभाषा अधिकारी
राजभाषा अधिकारी मुख्य रूप से राष्ट्रीयकृत बैंकिंग संस्थानों में राजभाषा अधिकारियों के रूप में काम करते हैं। उनकी प्राथमिक भूमिका दिन-प्रतिदिन के कार्यों में राजभाषा के प्रयोग को बढ़ावा देना है। वे विभिन्न आधिकारिक दस्तावेजों का हिंदी में अनुवाद भी करते हैं।

पत्रकारिता
हिंदी पत्रकारिता का एक कोर्स एंकर, न्यूज एडिटर, न्यूज राइटर और रिपोर्टर आदि जैसी कई नौकरी की भूमिकाएं खोलता है। क्षेत्रीय भाषाएं नई खपत पर हावी हैं, जिसमें हिंदी हार्टलैंड में हिंदी भी शामिल है।समाचार पत्रों के एक रजिस्ट्रार के आंकड़ों का अनुमान है कि लगभग 11489 हिंदी पत्र-पत्रिकाएं भारत में प्रकाशित होती हैं जो इस पेशे में गुंजाइश की मात्रा बताती हैं। पत्रकार समाचार पत्रों, रेडियो चैनलों, समाचार चैनलों, पत्रिकाओं और डिजिटल समाचार मीडिया के साथ काम करते हैं।

स्क्रीन राइटर
ओटीटी मीडिया की बढ़ती लोकप्रियता ने पटकथा लेखन के करियर को गति प्रदान की है। इसके अतिरिक्त, बॉलीवुड उद्योग प्रमुख रूप से हिंदी सामग्री पर निर्भर करता है। इस प्रकार हिंदी के सृजनात्मक लेखकों की मांग हमेशा की तरह बनी हुई है। मनोरंजन उद्योग के अलावा, पटकथा लेखक विज्ञापन एजेंसियों, समाचार मीडिया घरानों, फिल्म और टेलीविजन निर्माण में काम करते हैं।

सामग्री लेखक / संपादक
कंटेंट राइटर/एडिटर का काम ब्लॉग, मार्केटिंग कॉपी, सोशल मीडिया कॉपी आदि लिखना होता है। हिंदी या जनसंचार में डिग्री रखने वाला व्यक्ति आसानी से हिंदी सामग्री लेखक/संपादक के रूप में अपना करियर बना सकता है। कंटेंट राइटर और एडिटर पब्लिशिंग हाउस, मीडिया हाउस, एड एजेंसियों आदि के साथ काम करते हैं।

अनुवादक या दुभाषिया
कई उद्योगों में हिंदी से अंग्रेजी और इसके विपरीत अनुवादकों की आवश्यकता बढ़ रही है। एक अनुवादक और एक दुभाषिया के बीच का अंतर यह है कि पूर्व को एक दस्तावेज़ को वांछित भाषा में अनुवाद करने की आवश्यकता होती है, जबकि एक दुभाषिया वास्तविक समय में मौखिक संचार का अनुवाद करता है। अनुवादक और दुभाषिए सरकारी क्षेत्र और निजी कंपनियों, दूतावासों, प्रतिलेखन एजेंसियों आदि में अपना करियर बना सकते हैं।

वॉयस ओवर आर्टिस्ट
यदि आपके पास बोलने की क्षमता और अच्छी आवाज है,तो आप वॉयस ओवर आर्टिस्ट को करियर विकल्प के रूप में चुन सकते हैं। फिल्मों, रेडियो स्टेशनों, पॉडकास्ट, विज्ञापनों की डबिंग में वॉइस-ओवर आर्टिस्ट की आवश्यकता होती है।

विषय विशेषज्ञ (एसएमई)
कोई भी नए जमाने के स्टार्टअप्स, विशेष रूप से एडटेक फर्मों के लिए काम करने के लिए पात्र हो सकता है और बच्चों को पढ़ने के लिए मनोरंजक बनाने के लिए विभिन्न स्वरूपों - वीडियो, पाठ, प्रस्तुतियों में ई-लर्निंग के लिए हिंदी पाठ्यक्रम डिजाइन कर सकता है।

हिंदी टाइपिस्ट/हिंदी स्टेनोग्राफर
सरकारी क्षेत्र में हिंदी स्टेनोग्राफर और टाइपिस्ट की काफी मांग है।

भाषण लेखक
भाषण लोगों के एक समूह को प्रभावित करने का सबसे महत्वपूर्ण तरीका है। सम्मोहक भाषण लिखने के लिए भाषा पर कमांड की आवश्यकता होती है।भाषण लेखक सरकारी क्षेत्र, विज्ञापन एजेंसियों, कॉर्पोरेट में काम कर सकते हैं।

उपन्यासकार/लेखक/कवि
यदि आप रचनात्मक और प्रेम कथाकार हैं, तो आप हिंदी में डिग्री पूरी करने के बाद कवि/उपन्यासकार/लेखक बनने पर विचार कर सकते हैं। ऑडियोबुक्स, किंडल समर्थित ईबुक्स के उदय ने इस करियर को एक नया आयाम दिया है।

शिक्षाविद
हिंदी में एक व्यवसाय पूरा करने के बाद शिक्षक/व्याख्याता हमेशा सबसे अधिक मांग वाली नौकरी रही है। योग्य हिंदी शिक्षकों के लिए सरकारी और निजी शिक्षण संस्थानों में नौकरी के भरपूर अवसर हैं। एक शिक्षक के रूप में आपकी वरिष्ठता का स्तर बढ़ जाएगा क्योंकि आप बीए (हिंदी) के बाद उच्च डिग्री प्राप्त करते हैं, चाहे वह बीडी या एमएड या एमए या पीएचडी हिंदी हो।

डिजिटल मीडिया का प्रसार और ई-लर्निंग
डिजिटल मीडिया का प्रसार और ई-लर्निंग का स्थानीयकरण इस क्षेत्र में कुछ दिलचस्प रुझान हैं। वैश्विक मंचों पर हिंदी की पहचान, नए जमाने के मीडिया का उदय, हाइपरलोकल और रीजनल मार्केटिंग पर जोर, और उन्नत तकनीकों का उपयोग हिंदी में करियर बनाने के लिए एक रोमांचक समय है।

Download Fee Structure
Note:
  • Uniform Fee Extra
  • Fee Structure subject to revision from time to time.
  • The Institute without any prejudice reserves the right to change or delete any information without any prior information.
Schedule of Depositing the Fee:
  • 1st Installment at the time of Admission.
  • 2nd, 4th, 6th and 8th Installment (as applicable) - Last Date Payment: 15th January each academic year. 
  • 3rd, 5th and 7th Installment (as applicable) - Last Date Payment: 15th July each academic year.

 

Request a call

Provide your name and valid mobile number and get a call from our career counselor

   
studentquery
studentquery
Dehradun Weather

27°C

  • Humidity: 38%
  • Wind Speed: 0(m/s)
  • Wind Direction: 303degree
  • Rain: 0mm/s
  • Soil Temp: 55(C) °